:: Welcome To | Indian Culture ::
   
                            Welcome to AWA Culture
               
Call Us 9170800951                
           
Location Madanpur,Mirzapur
single

इंटरेस्ट, टैलेण्ट व कैरियर

29 Apr 2019

आजकल का युवा बहुत तेज गति से सबकुछ पा लेना चाहता है। वह चाहता है कि अलादीन के चिराग की तरह उसे सफलता मिले। उसकी प्रवृत्ति जल्द से जल्द खूब पैसा कमाने की है। वह करियर के प्रति भी बहुत जल्द सोच लेना चाहता है। युवाओं करियर को लेकर मन में कई प्रकार के प्रश्न उठते हैं। उसे कौनसा विषय लेना चाहिए। कौन से क्षे‍त्र में रोजगार की अधिक संभावनाएं हैं। उसके लिए उसे क्या तैयारियां करनी होगी ?_______ _______बच्चों की रुचि_______ करियर काउंसलर सचिन भटनागर कहते हैं कि बच्चों के रुचि के क्षेत्र बचपन में ही उनके मन में सेट हो जाते हैं, इन सबकी तैयारियां वे स्कूल लाइफ से ही शुरू कर देते हैं क्योंकि उनकी जड़ें जितनी मजबूत होंगी, उतने ही ज्यादा बेहतर तरीके से वे अपना करियर बना पाएंगे। मान लीजिए किसी बच्चे को क्रिकेट में करियर बनाना है तो वह बचपन से उसकी प्रैक्टिस करता है, उसकी ट्रेनिंग लेता है। जिन्हें गायन या डांस में अपना करियर बनाना है वे उनकी क्लास ज्वाइन करते हैं, तभी आगे चलकर वे इस क्षेत्र में महारथ हासिल करते हैं। _______ 9वीं या 10वीं के बाद बच्चों को यह निर्णय लेना पड़ता है उन्हें कौनसा सब्जेक्ट लेना है इसीलिए 10वीं कक्षा से करियर के प्रति सजग हो जाना चाहिए हैं। किस क्षेत्र में करियर बनाना है उस क्षेत्र में माता-पिता को बच्चों को तैयारियां शुरू करवा देना चाहिए। कई बच्चे जो करियर के प्रति तैयारियों में असमंजस में रहते हैं तो काउंसलर्स उनकी मदद करते हैं। बिना पक्षपात के काउंसलर्स उनके बारे में पूरी जानकारी हासिल कर लेते है कि बच्चों की रुचि किस विषय में है। उनकी योग्यता क्या हैं। उन्हें किस दिशा में अपनी तैयारियां करनी चाहिए।

करियर प्लानिंग

करियर प्लानिंग कैसे करें इन सब प्रश्नों पर करियर काउंसलर सचिन भटनागर का कहना है कि करियर प्लानिंग के लिए सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है कि आपकी रुचि किस क्षेत्र में है और उस क्षेत्र में रोजगार की कितनी संभावनाएं हैं। उसके बाद बारी आती है कॉलेज की। जिस क्षेत्र में करियर बनाना है, उस विषय से संबंधित कॉलेज या शिक्षण संस्थान कहां है। उस विषय से संबंधित अच्‍छी फैकल्टी कहां है। इन सब बातों की खोज के बाद हमें अपने करियर की दिशा में कदम बढ़ाने चाहिए।_______ यह सवाल युवा वर्ग के लिए बहुत अहम है। 10वीं कक्षा के बाद विद्यार्थियो के सामने यह यक्ष प्रश्न खड़ा हो जाता है कि वे कौन क्षेत्र में करियर बनाएं, जिसमें अच्छी संभावनाएं हों और साथ ही यह कम खर्चीला हो। अगर ऐसे विद्यार्थियों की रुचि मैकेनिकल क्षेत्र में है तो भारत सरकार द्वारा संचालित औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आईटीआई) में इनके लिए बेहतर विकल्प हो साबित हो सकते हैं।_______ आईटीआई में प्रशिक्षण प्राप्त करने के उपरांत सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों जैसी एनटीपीसी, भेल, में रोजगार के अवसर मिलते हैं, क्योंकि ये कंपनियां आईटीआई के साथ अनुबंध करती हैं। आईटीआई में कम्यूटर ऑपरेटर, इलेक्ट्रिकल, विद्युतकार, रेडियो, टीवी मैकेनिक, डीजल मैकेनिक जैसे कोर्स इनमें संचालित होते हैं। इन संस्थानों में सरकार द्वारा कई मैकेनेकिल, इलेक्ट्रॉनिक, रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने वाले कोर्स संचालित किए जाते हैं। इन संस्थानों में 10वीं के बाद प्रवेश पाया जा सकता है। इन संस्थानों में मैकेनिकल क्षेत्र में विद्यार्थियों को व्यवहारिक ज्ञान भी दिया जाता है। राज्य के हर जिले में आईटीआई की शाखाएं रहती हैं। इन संस्थाओं में प्रशिक्षण के बाद वार्षिक परीक्षाएं आयोजित की जाती हैं। प्रैक्टिकल टेस्ट भी होते हैं। आईटीआई में सरकार के नियमों के अनुसार प्रशिक्षणार्थियों के छात्रवृति की सुविधाएं भी प्रदान की जाती हैं।

12 वीं के बाद के विकल्प जब हम सब दसवीं में थे तब तक हमे सारे सब्जेक्ट पढ़ने पड़ते थे लेकिन दसवीं के बाद हमने अपनी पसंद के विषय का चुनाव किया की जैसे की हमे आगे इंजीनियरिंग या डॉक्टर की तैयारी करनी है तो हमने विज्ञान शाखा का चुनाव किया, अकाउंट के क्षेत्र के लिए कॉमर्स का चुनाव किया तथा वकील, सिविल या पॉलिटिक्स के क्षेत्र के लिए आर्ट्स का चुनाव किया था इसी तरह आपको अपने उसी चुने हुए क्षेत्र की ओर आगे बढ़ना है जिसे की आपकी रूचि थी या रूचि है। लेकिन कठिनाई ये आती है की अब 12वीं के बाद आपको समझ नहीं आ रहा होता की आगे क्या किया जाये क्यों की आज-कल इतने सारे कोर्स उपलब्ध है की आप भ्रमित हो जाते हो। चलिए हम आपको बताते है की आप आगे क्या कोर्स कर सकते हो या किस नौकरी के लिए तैयारी कर सकते हो। _______ _______12वीं विज्ञान के बाद _______ हम सबको पता है की जो बच्चे दसवीं में अच्छे अंक प्राप्त करते हैं अक्सर वही 12वीं में साइंस का चुनाव करते हैं। साइंस स्ट्रीम थोड़ी सी मुश्किल होती है अतः जो बच्चे इस स्ट्रीम को चुनते हैं वे अक्सर इंजीनियर या डॉक्टर के लिए तैयारी करते हैं तथा अन्य कुछ बच्चे कॉमर्स या आर्ट्स लेते हैं जिन्हे बैंक या सिविल / वकील / पॉलिटिक्स में रूचि होती है।_______ वहीं विज्ञान स्ट्रीम में भी बच्चों के पास चुने हुए विषय होते हैं, आपके पास भौतिक, रसायन विज्ञान व गणित विषय या भौतिक, रसायन विज्ञान व बायोलॉजी विषय होते हैं या गणित व बायोलॉजी दोनों ही विषय होते हैं। हमने आपकी सुविधा के लिए विज्ञान विषयों के आधार पर जानकारी दी है आप अपने विषय के अनुसार जानकारी देख सकते हैं। _______12वीं के बाद बी.एससी_______ 12वीं के बाद बी.एससी कोई भी छात्र कर सकता है। 12 के बाद आप बी.एससी इन मैथ / फिजिक्स / केमिस्ट्री /बायोलॉजी, बी.एससी एग्रीकल्चर इन में से किसी से भी कर सकते हैं। बी.एससी के बाद आप मास्टर की डिग्री मतलब एम.एससी कर सकते हैं या आप एम.बी.ए भी कर सकते हैं। बी.एससी एक कॉमन कोर्स है जो विज्ञान स्ट्रीम से 12वीं पास कोई भी छात्र कर सकता है।_______ _______12th PCBM के साथ (Physics, Chemistry, Biology, Maths)_______ जिन बच्चों ने भौतिक, रसायन विज्ञान, बायोलॉजी व गणित विषयों के साथ कक्षा 12 पूरी की है वे यहाँ नीचे दिए हुए फ्लो-चार्ट से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं की उन्हें किस क्षेत्र में कैरियर बनाना चाहिए। हमने यहाँ कुछ चुनिंदा कोर्सेज के नाम बताए है जिन्हे अपना कर आप अपना भविष्य उज्जवल कर सकते हैं। _______after 12th PCB के साथ (Physics, Chemistry, Biology)_______ जिन बच्चों ने 12वीं भौतिक, केमिस्ट्री और बायोलॉजी में किया है वे बच्चे कक्षा 12 के बाद मेडिकल जैसे MBBS व BDS के एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी कर सकते हैं। वैसे इसके अतिरिक्त और भी विकल्प मौजूद हैं। आप बी.फार्मा, बी.एससी नर्सिंग, पैरामेडिकल, BAMS यानी बैचलर ऑफ आयुर्वेदिक मेडिसिन ऐंड सर्जरी आदि कोर्स कर सकते हैं। आप नीचे दिए हुए इमेज से १२वीं के आगे के लिए कोर्सेज देख सकते हो। _______12th PCM के साथ (Physics, Chemistry, Maths)_______ फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ्स से 12वीं करने वाले अभियार्थी बारहवीं के बाद इंजीनियरिंग के क्षेत्र में अपना करियर बना सकते हैं , इसके लिए आपको आईआईटी जेईई जैसे प्रवेश परीक्षा की तैयारी करनी चाहिए। इसके अतिरिक्त आप बी.सी.ए, बी.एससी, बी.आर्च, होटल मैनेजमेंट आदि जैसे कोई कोर्स कर सकते हैं इसके उपरांत आप अच्छी नौकरी प्राप्त कर सकते हैं। जिन बच्चों ने 12वीं गणित, भौतिकी और रसायन विज्ञान से की है वो नीचे दिए हुए इमेज में अपने अनुसार कोर्स देख सकते हैं।